Maa

माँ ममता का आंचल है वो आँखों का काजल है वो जन्नत है जिसकी गोद में खुशियों का आंगन है वो हमारी खुशी के लिये दिन रात एक कर देती है वो आजायें अगर हमारी आँखों में आसू तो जमीन आसमान एक कर देती ह़ै वो सीखाती है वो नन्हे कदमो को चलना, उठना और … Continue reading Maa

Advertisements

Chal befikar

Hum log humesha kal ke bare mein sochte rehte h , ki kal kya hoga??, Kaisa hoga?? Or kal ki chinta mein Apne aaj ko hi peeche chod dete hai . Zindagi mein kbhi kbhi befikr hokar bhi chalna chahiye or Apne aaj ko jeena chahiye. Chal befikr , chahe ho kaisi bhi dagar chod … Continue reading Chal befikar